Bansawali Kaise Banaye: 2024 में वंशावली कैसे बनाएं; ₹10 में एक नई प्रक्रिया

Bansawali Kaise Banaye: हम अपनी संपत्ति को बाँटने के लिए अक्सर वंशावली प्रमाण पत्र बनाना पड़ता है। जब संपत्ति का बंटवारा किया जाता है, वंशावली प्रमाण पत्र एक अच्छा प्रमाण है। पहले की तुलना में वंशावली बनाना बहुत आसान हो गया है। क्योंकि बिहार सरकार ने हाल ही में वंशावली प्रमाण पत्र बनाने की नई प्रणाली शुरू की है Bansawali Kaise Banaye जानना चाहते हैं तो लेख को पूरा पढ़ें।

Bansawali Kaise Banaye: वंशावली बनवाने के लिए आपको सिर्फ ₹10 का भुगतान करना होगा, यह शुल्क कहां देना होगा और आवेदन कहां जमा करना होगा? वंशावली कैसे बनवाना है? सभी की वंशावली कैसे बनेगी? सभी जानकारी नीचे दी गई है। Bansawali Kaise Banaye के बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए, नीचे दी गई जानकारी को एक बार जरूर पढ़ें।

Bansawali Kaise Banaye New Process 2024

Post Name Bansawali Kaise Banaye New Process: अब मात्र ₹10 में बनवाएं वंशावली प्रमाण पत्र, नई प्रक्रिया शुरू
Post Type Certificate Issue
Certificate Name Bansawali (वंशावली)
Departments राजस्व भूमि सुधार विभाग बिहार सरकार
Official Website state.bihar.gov.in/main/CitizenHome.
Apply Mode Offline
Process Duration 15 Days
Application Fee Rs. 10/-
Short Information Bansawali Kaise Banaye: हम अपनी संपत्ति को बाँटने के लिए अक्सर वंशावली प्रमाण पत्र बनाना पड़ता है। जब संपत्ति का बंटवारा किया जाता है, वंशावली प्रमाण पत्र एक अच्छा प्रमाण है। पहले की तुलना में वंशावली बनाना बहुत आसान हो गया है। क्योंकि बिहार सरकार ने हाल ही में वंशावली प्रमाण पत्र बनाने की नई प्रणाली शुरू की है Bansawali Kaise Banaye जानना चाहते हैं तो लेख को पूरा पढ़ें।

Bansawali Kya Hai ? (वंशावली प्रमाण पत्र क्या है?)

Bansawali Kya Hai? वंशावली प्रमाणपत्र में किसी परिवार के सभी सदस्यों की वंशावली और गोत्र की जानकारी होती है। इसमें परिवार के वर्तमान और पूर्व सदस्यों का विवरण है। वंशावली बहुत कुछ करती है। जैसा कि आप जानते हैं, किसानों को कृषिभूमि उनके पूर्वजों से मिलती है, यानी पीढ़ी। ऐसे में, वे वंशावली जैसे दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है अगर वे कृषि विभाग की किसी भी योजना का लाभ लेना चाहते हैं।

2024 में Bansawali Banta Hai: वंशावली बनवाने के लिए आपको सिर्फ ₹10 का भुगतान करना होगा, यह शुल्क कहां देना होगा और आवेदन कहां जमा करना होगा? वंशावली कैसे बनवाना है? सभी की वंशावली कैसे बनेगी? सभी जानकारी नीचे दी गई है। Bansawali Kaise Banaye के बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए, नीचे दी गई जानकारी को एक बार जरूर पढ़ें।

Bansawali Kaise Banta Hai New Process (वंशावली का प्रारूप)

Bansawali Kaise Banaye: जैसा कि आप देखते हैं, वंशावली को बनाने के कई अलग-अलग तरीके हो सकते हैं, लेकिन इस प्रारूप को ही आप देखते हैं। यह आपके पिता, दादा और दादा के बारे में कुछ जानकारी देता है। ताकि आप अपने पूर्वजों की संपत्ति पर अधिकार पा सकें। सरकारी योजनाओं में से कई में वंशावली की आवश्यकता होती है।

Bansawali Kaise Banaye

Bansawali Ka Use Kya Hai (वंशावली के उपयोग)

Bansawali Kaise Banaye: यदि आपके पूर्वज, दादा या परदादा ने आपके लिए कोई संपत्ति रखी है, तो आपको उस पर अधिकार पाने के लिए वंशावली की आवश्यकता होगी। बंसावली का प्रसार कैसे होता है? जैसे आपके दादा या परदादा के नाम पर एक जमीन है, लेकिन उनके निधन के बाद उस पर पूरा नियंत्रण रखने के लिए आपको वंशावली की आवश्यकता होगी। लेकिन कुछ सरकारी योजनाओं से लाभ लेने के लिए वंशावली की आवश्यकता होगी।

Bansawali Kaise Banaye New Process (महत्वपूर्ण दस्तावेज)

  • शपथ पत्र पर वंशावली का विवरण
  • स्थानीय निवास होने का प्रमाण पत्र. जैसे जमीन का दस्तावेज, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, मैट्रिक या अन्य प्रमाण पत्र इत्यादि
  • लिखित आवेदन पत्र
  • ₹10 का शुल्क नगद
  • मोबाइल नंबर इत्यादि

Bansawali Kaise Banaye (वंशावली कैसे बनवाएं)

Bansawali Kaise Banaye: पहली बात यह है कि आपको किस स्तर की वंशावली की आवश्यकता है और क्यों आपको यह करना चाहिए। आप अपनी वंशावली जारी करने के लिए दो तरीके चुन सकते हैं।

पहले आप अपने ग्राम पंचायत के सरपंच से अपनी वंशावली बनवा सकते हैं; दूसरा, अगर आप चाहें तो अपनी वंशावली कोर्ट से भी बनवा सकते हैं। तो आप वंशावली बना सकते हैं जो आपको चाहिए

कोर्ट से: अगर आपको कोर्ट से बना हुआ वंशावली चाहिए, तो आपको पहले अपने जिला कोर्ट में जाकर आवेदन करना होगा। आपको एक फॉर्म मिलता है जिसे आप भर के कोर्ट में जमा करवाना होगा, जिसके बाद आपका वंशावली बनाया जाएगा।

पंचायत स्तर पर: वंशावली बनवाने के लिए आपको पहले अपने पंचायत कार्यालय में आवेदन करना होगा. इसके बाद आपका वंशावली बनाया जाएगा।

Note- वंशावली दो संस्करणों में बनाई जाएगी। ग्राम पंचायत सचिव को वंशावली की दोनों प्रतियां सभी दस्तावेजों के साथ लौटा दी जाएगी। ग्राम कचहरी सचिव उक्त वंशावली की छायाप्रति अपने कार्यालय अभिलेख में सुरक्षित रख सकेंगे। सरपंच से वंशावली लेने के बाद, पंचायत सचिव एक प्रति पर आवेदक के हस्ताक्षर और दूसरी प्रति पर अपना हस्ताक्षर करके उसे सौंप देगा। दूसरी प्रति के आधार पर परिवार रजिस्टर में उसका पूरा विवरण दर्ज किया जाएगा। ग्राम पंचायत कार्यालय में मूल आवेदन पत्र और द्वितीय प्रति सुरक्षित रखा जाएगा।

Bansawali Kaise Banta Hai (महत्वपूर्ण जानकारी)

  • आवेदन के साथ पंचायत कार्यालय में दस रुपये नकद जमा कराने होंगे।
  • वंशावली को पुनः जारी करने के लिए आवेदक को पंचायत सचिव के पास 100 रुपये का शुल्क जमा करना होगा।
  • पंचायत सचिव संबंधित कागजात से संतुष्ट होकर मुहर, मोहर व तारीख के साथ अपनी अनुशंसा ग्राम कचहरी को सौंपेंगे.
  • अग्रेषित आवेदन की छायाप्रति पंचायत सचिव अपने कार्यालय में सुरक्षित रखेंगे।

Bansawali Kaise Banta Hai

Bansawali Kaise Banaye (Important Links)

Home Page Click Here
Bansawali Form Download Click Here 
Official Website Click Here
Bihar Jamin Naksha Online Click Here 
WhatsApp Click Here

वंशावली फॉर्म कैसे भरे?

भूमि सर्वे में क्या कागजात चाहिए? स्व घोषणा का प्रमाण पत्र, जमाबंदी संख्या का विवरण, मालगुजारी रसीद की छाया, मृत्यु की तिथि या मृत्यु प्रमाण पत्र की छाया, आवेदक या हित अर्जन करने वाले व्यक्ति का मृतक का बारिश होने का प्रमाण पत्र

बिहार में वंशावली कैसे बनता है?

अपनी पंचायत द्वारा वंशावली बनाने पर कोई खर्च नहीं होगा। पहले आपको अपने क्षेत्र के सरपंच से मिलना होगा। क्योंकि आपको पंचायत स्तर से बनाने के दौरान आपका पंचायत निधि सरपंच बनाता है! सरपंच के लेटर पेड पर एक सिद्रुल बनाना होगा।

वंशावली क्या है?

वंशावली प्रमाणपत्र में किसी परिवार के सभी सदस्यों की वंशावली और गोत्र की जानकारी होती है। इसमें परिवार के वर्तमान और पूर्व सदस्यों का विवरण है। वंशावली बहुत कुछ करती है।

वंशावली बनाने के लिए दस्तावेज क्या लंगेगे?

शपथ पत्र पर स्थानीय निवासी होने का प्रमाण पत्र। जैसे जमीन का दस्तावेज, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, मैट्रिक या अन्य प्रमाण पत्र लिखित आवेदन पत्र ₹10 नगद मोबाइल नंबर

इन्हें भी देखें:-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top